लकवा पीड़ितों के लिए स्टार्टअप कंपनी ने बनाया रोबोटिक ग्लव्स, इसे पहनकर रोजमर्रा के काम कर सकेंगे

कोरियाई स्टार्ट-अप कंपनी नियोफैक्ट ने रोबोटिक्स हैंड ग्लव्स नियोमानो तैयार किए हैं। इन्हें खासतौर से लकवा पीड़ित व्यक्ति के लिए डिजाइन किया गया है। पीड़ित व्यक्तियों को इनके इस्तेमाल से न सिर्फ स्ट्रोक से उभरने में मदद मिलेगी बल्कि वे बिना किसी की मदद लिए रोजमर्रा के कामकाज कर सकेंगे। इसके प्रोडक्शन मॉडल की कीमत 1.40 लाख रुपए तक होगी।


इसमें एक इलेक्ट्रिक मोटर है जो उंगलियों को चलाती है 




  1.  


    नियोमानो एक वियरेबल हैंड रोबोट है, जो स्पाइनल कॉर्ड इंजरी (एससीआई) से पीड़ित लोगों की मदद करेगा। एससीआई से पीड़ित व्यक्ति न सिर्फ कमजोर हो जाता है बल्कि वे अपनी मांसपेशियों से भी काफी हद तक नियंत्रण खो देता है लेकिन इस रोबोटिक ग्लव्स से वे न सिर्फ चीजों को हाथों से पकड़ सकेंगे बल्कि उसे उठा भी सकेंगे।


     




  2.  


    नियोमानो ग्लव्स में एक इलेक्ट्रिक मोटर और कई सारे बटन लगे हैं। इन बटन का इस्तेमाल कर लकवा पीड़ित व्यक्ति अपने सुन्न पड़े हाथ से भी काम कर पाएगा। बटन दबाकर किसी भी ऑब्जेक्ट को मजबूती से पकड़ा जा सकता है बल्कि अन्य बटन के जरिए उसे छोड़ा जा सकता है।


     




  3.  


    इसमें वायरलेस रिमोट कंट्रोल्ड मोटर का इस्तेमाल किया गया है जो उंगलियों को चलाती है, जिससे यूजर पानी का ग्लास पकड़ने, दरवाजे का नॉब घुमाने और टूथब्रश करने जैसे काम करता है।ग्लव्स की सफाई करने के लिए इसी आसानी से मोटर से अलग किया जा सकता है।




Popular posts
जनसभा / कांग्रेस, जेएमएम, राजद ने निर्दलीय को मुख्यमंत्री बनाकर 4000 करोड़ का घोटाला किया: रघुवर दास
एम्प्लॉयमेंट 2020 / नए साल में मिल सकती हैं 5 लाख सरकारी नौकरियां
झारखंड विस चुनाव / न नामांकन में दिखे गठबंधन के नेता, न साझा सभा में; प्रत्याशी अपने दम पर ही कर रहे प्रचार
एमपीपीएससी पेपर एनालिसिस / पॉपुलर फैक्ट्स को रटकर परीक्षा देने वालों के लिए मुश्किल रहा पेपर, पिछले साल की तुलना में कठिन रहा पेपर
इंदौर टेस्ट / कोहली के इंतजार में कुर्सी पर बैठी रहीं स्पेशल फैन; विराट ने मुलाकात की, ऑटाेग्राफ दिया